चुद गया नितिन गुप्ता भी

आपको हमने बहुत से किस्से पहले भी सुनाये हैंआप शायद हमें भूल गए,चुदगयानितिनगुप्ताभी लेकिन हम भूल नहीं पाये हैंआपने इतना प्यार हमको दिया कि हम आप के लिए एक बार फ़िर से आए हैतो एक बार फ़िर से आता हूँ असली बात पेअपनी औकात पेबात है उस कमसिन की, गर्मी के एक दिन कीमैं बैठा था उदास, क्यूंकि लंड को लगी थी बड़ी ज़ोर की प्यासमेरा लंड भी तो दशहरा मनाना चाहता थाऔर किसी की चूत में ठिकाना चाहता थाएक चुलबुली लड़की को देख कर मेरा मन बहक गयालंड का चेहरा खिल गया और चहक गयाआख़िर उस लड़की ने मेरी तरफ़ देख लियामैंने भी उस लड़की की तरफ़ देखते हुए एक स्माइल को फेंक दियावो हँसने लगी, मुझे लगा कि फंसने लगीमैंने हिम्मत की उसके पास जाने कीउसे चुदाई के लिए मनाने कीमैंने कहा की आप बहुत सुंदर होसुन्दरता का समुन्दर होवो बोली कि सब यही कहते हैंऔर बस मुझे ही देखते रहते हैंमैंने कहा चलो कहीं चलते हैंआपको ले जाने के लिए दिल में अरमान मचलते हैंवो मान गई,मेरी तो जैसे कि जान गईमैं उसे ले के अपने रूम पे आ गयाउसे चोदने का मेरे दिल पे जैसे जूनून छ गयामैंने उसे अपने बिस्तर पे लिटा दियाऔर घर का दरवाज़ा बंद कर दियाउसने कुरता और ब्रा उतार के अपने मोम्मो को मेरे सामने धर दियाउसके मोम्मे देख के मुंह में पानी आ गयाऔर मैंने उसके मोम्मों को अपने हाथ में जल्दी से धर लियावो बोली इन्हे पकड़ोगे ही या मुंह में भी लोगेबस बिठाने के लिए ही लाये हो या चुदाई का सुख भी दोगेउसकी ये बात सुन के मेरा हौसला बढ़ गयाऔर अपने कपड़े उतार के मैं उस के ऊपर चढ़ गयामैंने उसकी चूत को पहले ऊँगली से और फ़िर अपने लंड से चोद डालाएक या दो बार नहीं चार बार उसका पानी निकालाफ़िर मैंने उसे उल्टा किया और उसकी गांड मारने की सोच रहा थावो बोर न हो इस लिए उसके मोम्मे भी नोच रहा थामैंने उसे कहा कि मेरा लंड चूस लोगला सूख रहा होगा इसलिए थोड़ा लंड का जूस लोवो बोली इसके पैसे अलग लूंगीऔर पहले पिछले पैसे का हिसाब कर लो तभी और चुदाई करने दूँगीमैंने कहा कि पैसे कि क्या बात करती होतुम जल्दी बता दो मुझे तुम्हारी गांड भी लेनी हैपैसे की बात मत करो मुझे बहुत बेचैनी हैवो बोली कि तुमने मुझे चार बार चोदा है तो ५०००० दे दोमैंने कहा ये तो बहुत ज़्यादा हैंसब तो ५०० लेती हैं, तुम भी ले लोवो बोली मेरा रेट यही हैऔर मैंने अपनी भाई से भी कही हैअगर तुमने पैसे नहीं दिए तो वो आता ही होगाऔर अपने साथ ४ -५ गुंडे लाता ही होगाये सुन के मेरी तो फट ही गईमैंने कहा इस वक्त मेरे पास १०००० हैं सो ले जाओलेकिन कृपया अपने भाई को मत बुलाओवो बोली कि ठीक है लेकिन तुमने अभी मेरी गांड भी तो लेनी हैऔर उसकी पेमेंट एक्स्ट्रा देनी हैमैंने कहा कि बस बहुत हो गया हैअब मुझे कुछ भी नहीं चाहिए, आप जा सकती होवो चली गई तो मैं सोचता रहाकि ५०००० में तो मैं उमर भर चुदाई का मज़ा ले सकता थाऔर ये बहन की लौड़ी १०००० तो ले गईऔर ४०००० और मांगती हैजाने दो ये पैसा तो हाथ की मैल हैऔर इसी के लिए ही तो हर एक खेल हैतो दोस्तों चोदो-चुदाओ और लाइफ को खुशहाल बनाओलेकिन किसी अनजान को चोदते हुए कंडोम ज़रूर लगाओमुझे आपकी चूत और मेल का इंतज़ार रहेगा